updated on May 17th, 2020 at 11:27 pm

ढाका। बांग्लादेश में पिछले साल एक कैफे में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। ढाका पुलिस को मोहम्मदपुर बेरिबाध इलाके में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद सुबह 3 बजे पुलिस ने छापेमारी की कार्रवाई की तो आतंकवादियों ने पुलिस के ऊपर फायरिंग शुरू कर दी। जब पुलिस ने जवाबी फायरिंग की तो  नुरुल इस्लाम उर्फ मारजन और उसका साथी सद्दाम हुसैन घायल हो गया। जहां से दोनों को ढाका मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने दोनो आतंकियों को मृत घोषित कर दिया। आपको बता दें कि नुरुल इस्लाम उर्फ मारजन ने एक जुलाई को आर्टिसन बेकरी पर हमले की योजना बनाई थी। जिसमें कि 23 लोग मारे गए थे। मृतकों में 17 लोग विदेशी थे जिसमें एक भारतीय लड़की भी शामिल थी। इस मुठभेड़ में मारा गया आतंकी सद्दाम हुसैन पर हत्या के 10 मामले थे। जिसमें कि पंचगढ़ जिले के एक मंदिर में हिंदू पुजारी की पीट-पीटकर हत्या करने का मामला भी शामिल है।

Similar Posts

Leave a Reply