सचिन तेंदुलकर के फैन, सुधीर कुमार गौतम

updated on January 2nd, 2018 at 10:06 pm

भारत के हर मैच में बिना थके तिरंगे को लहराते और शंख फूंकते आपने इस शख्स को कई बार देखा होगा। पूरी बॉडी पर तिरंगे का रंग पुता होने के बाद भी घंटों वह तिरंगे को हाथ में थामें भारतीय खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाता है। दरअसल, ये है सुधीर कुमार गौतम भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे बड़े फैन। लेकिन इस फैन की जिंदगी का एक पहलु ऐसा भी है जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे।

1700 कि.मी. साईकल चलाकर पहुंचा मुंबई

सुधीर कुमार गौतम सचिन तेंदुलकर के सबसे बड़े फैन हैं। साल 2003 में सुधीर गौतम बिहार के मुजफ्फरपुर से मुंबई तक पूरे 1700 कि.मी. साइकिल चलाकर सचिन तेंदुलकर से मिलने पहुंचे थे। मुंबई पहुंचने के बाद सुधीर गौतम को ट्राइडेंट होटल में होने वाले सचिन की प्रेस कॉन्फरेंस का पता चला। जहां सचिन को देखते ही वह उनके पैरों पर गिर पड़े। सचिन तेंदुलकर ने सुधीर गौतम को न सिर्फ घर पर खाने के लिए बुलाया बल्कि अगले मैच का टिकट भी दिलाया। बस यही से सुधीर की जिंदगी में सबसे बड़ा बदलाव आया।

सचिन तेंदुलकर से मिलने के लिए खानी पड़ी पिटाई

कटक में न्यूज़ीलैंड और भारत के बीच मैच के दौरान सुधीर कुमार गौतम दौड़कर सचिन तेंदुलकर के पांव छूने मैदान में घुस गए। पुलिस ने सुधीर कुमार गौतम को स्टेडियम से बाहर निकाल दिया गया। सुधीर कुमार गौतम फिर बाज नहीं आए और हैदराबाद के मैदान में फिर घुस गए। जिस कारण पुलिस नें उन्हें पकड़ कर उनकी पिटाई करते हुए जेल में डाल दिया। इतना ही नहीं एक बार कानपुर में भी उनकी खूब पिटाई हुई थी, क्योंकि जिस जगह इंडियन क्रिकेट टीम प्रैक्टिस कर रही थी वहां वे दीवार फांदते पकड़े गए थे। तब सचिन ने ही उन्हें बचाया था।

सचिन तेंदुलकर ने थमाई वर्ल्ड कप ट्रॉफी

 

2011 के वर्ल्ड कप को शायद ये फैन कभी न भूले क्योंकि इंडिया ने वर्ल्ड-कप जीत लिया था। जिसके बाद सचिन तेंदुलकर ने सुधीर कुमार गौतम को ड्रेसिंग रूम में बुलाकर उनके हाथों में ट्रॉफी दी और फोटो ली।

नौकरी और परिवार दोनों छोड़ दिया

सुधीर कुमार के सिर क्रिकेट की दिवानगी इस कदर बढ़ गई थी कि उन्होंने तीन नौकरियां तक छोड़ दीं। इतना ही नहीं सुधीर ने तो अपने घरवालों तक का साथ छोड़ दिया। वह अपने माता पिता से बात नहीं करते। इतना ही नहीं जब भी उनकी बहन उन्हें फोन करती है तो वह फोन तक नहीं उठाते। सुधीर का मानना है कि उनके पास फैमिली के लिए टाईम नहीं है।

रंगों की वजह से लगा 65,000 का जुर्माना

एक बार जिम्बाब्वे के खिलाफ इंडिया का मैच देखने ऑकलैंड जा रहे थे। तभी न्यूज़ीलैंड एयरपोर्ट अथॉरिटी की सिक्युरिटी ने सुधीर चौधरी के साथ लाए पेंट को जब्त कर लिया था। क्योंकि लिक्विड्स फ्लाइट पर बैन हैं और ऐसा करने के लिए उन पर 65,000 रुपये का जुर्माना भरना पड़ा था।

सचिन से मिस यू सचिन तक

 

सुधीर चौधरी हर मैच में अपने शरीर पर बने तिरंगे के रंग के बीच ‘Sachin’ लिखते थे। लेकिनलेकिन सचिन तेंदुलकर के सन्यास लेने के बाद से वह ‘Miss U Sachin’ लिखते हैं।

यह पढ़े:

Similar Posts

Leave a Reply