कोरोना वायरस

updated on May 25th, 2020 at 09:01 pm

पूरे विश्व में कोरोना वायरस (coronavirus) का प्रकोप दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है, अब तक पूरी दुनिया में संक्रमित लोगो की संख्या 5.44 M हो गई है, इसमें से 2.18 M ठीक और 345 K लोगो की मृत्यु हो चुकी हैं, यह वायरस चीन, इटली, स्पेन, ईरान, अमेरिका और भारत पर भी अपना असर दिखा रहा हैं, अब तक भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो की कुल संख्या 139 K हो चुकी है, इसमें से 57,721 लोग ठीक हो गए हैं और 4,021 लोगो की मौत हो चुकी हैं। कोरोना वायरस एक समान्य बीमारी जैसे खांसी, जुकाम, तेज बुखार, कमजोरी आना, साँस लेने में तकलीफ़, सिरदर्द और गले में दर्द से शुरू होती है परन्तु अगर आप इससे मौसम के परिवर्तन की समस्या समझ रहे हैं तो शायद आपके और आपके परिवार के लिए खातक साबित हो सकता हैं अगर ऐसी कोई समस्या हो तो फ़ौरन डॉक्टर के पास जाए जाँच कराये और सही समय पर इलाज कराए।

Coronavirus in India Live Update (कोरोना वायरस की लेटेस्ट जानकारी)

3 May : कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो और कोरोना योद्धाओं ( Corona Warriors) को देश के भारतीय सेनाओं के द्वारा सम्मान दिया गया। आज देश ने अलग अलग शहरों में वायुसेना के लड़ाकू विमानों से हॉस्पिटल के डॉक्टर्स, नर्स, चिकित्सा कर्मियों, पुलिस, साफ सफाई करने वाले योद्धाओं के सम्मान में हॉस्पिटल के ऊपर से फूलो की बारिश और एक तरह की स्पेशल धुन बजाई गयी जिससे अस्पताल में काम करने वालों कर्मियों का हौसला बनना रहे।

1 May : प्रधानमंत्री मोदी ने फ्रंटलाइन वॉरियर्स को सम्मान देने की बात का किया स्वागत

शुक्रवार को चीफ ऑफ डिफेंस जनरल विपिन रावत के द्धारा कोविड-19 से लड़ रहे फ्रंटलाइन वॉरियर्स को सम्मान देने की बात का प्रधानमंत्री मोदी ने स्वागत किया है। उन्होंने अपने टिवटर हैंडल से कहा कि, मैं आज रक्षा कर्मचारियों के प्रमुखों की घोषणाओं का स्वागत करता हूं। भारत ने साहसी अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं के कारण COVID-19 के खिलाफ एक मजबूत लड़ाई लड़ी है जिन्होंने कई लोगों की देखभाल और इलाज किया है। वे शानदार हैं। भारत उनकी और उनके परिवारों की सराहना करता है।

आपको बता दें कि शुक्रवार 1 मई को सीडिएस प्रमुख जनरल विपिन रावत ने संकट की इस घड़ी में करोना वायरस लड़ रहे डाँक्टर्स, नर्स, पुलिस व सशस्त्र सैन्य बलों को सम्मान देने की बात कही थी। शुक्रवार को हुए प्रेस कान्फ्रेंस में उन्होंने कहा था कि “24 मार्च 2020 से 03 मई 2020 तक की अवधि उस अवधि को दर्शाती है जब प्रत्येक भारतीय से काफी बलिदान मांगा गया था। अधिकांश भारतीयों ने तालाबंदी का आह्वान किया और घर से ही काम किया। हालांकि, मुट्ठी भर भारतीय हैं, ‘कोरोना वॉरियर्स’, जो जोखिम में हैं और अभी भी हर रोज अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बिजली और पानी जैसी बुनियादी सुविधाएं सभी तक पहुंचाई जा सकें, ताकि सड़कें साफ-सुथरी रहें, ताकि खाने की बुनियादी चीजें उपलब्ध हों, वहीं किसी भी रोगी को बिना इलाज के नहीं लौटाया जाता है, कानून और व्यवस्था बनाए रखी जाती है और विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाया जाता है और उनकी देखभाल की जाती है। ये कोरोना योद्धा डॉक्टर, नर्स, स्वच्छता और स्वच्छता कर्मचारी, पुलिस कर्मचारी या मीडिया कर्मी हैं, उन्होंने सुनिश्चित किया है कि भारत इस महामारी से जूझता रहे। हम इन योद्धाओं और उनके प्रयासों को सलाम करते हैं और उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं। हम उनके बलिदान और COVID-19 से लड़ने के उनके प्रयासों के लिए आभारी हैं।

Coronavirus लाकडाउन 3.0 में क्या-क्या बदला

बीतो दिनों में करोना वायरस और उससे संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या में इजाफा देखते हुए भारत सरकार ने 3 मई को खत्म होने वाले लाक डाउन की अवधि को 14 दिन और बढ़ा दिया है। वहीं राज्यों में स्थित जिलों को ग्रीन, येलो और रेड जोन में बाँटा गया है। गृह मंत्रालय के आदेशानुसार लाकडाउन 3.0 में जहाँ ग्रीन जोन व येलो जोन में जहाँ छूट दी गयी है वहीं भीड़-भाड़ वाले इलाकों को अभी भी बंद रखने के आदेश हैं।

राज्य सरकारों को दी गयी है छूट

भारत सरकार द्धारा राज्य सरकारों को राज्य की परिस्थितियों को देखते नए नियमों को बनाने की छूट दी गयी है। ग्रीन जोन वाले जिलों को खोला जा रहा है। वहीं येलो जोन व रेड जोन वाले इलाकों को अभी भी बंद रखने के आदेश हैं। हालाँकि येलो जोन वाले इलाकों में भी तय नियमों के साथ ही खोलने पर भी विचार किया जा रहा है।

प्रतिबंधित रहेंगे

लाकडाउन 3.0 के अंतर्गत स्कूल, माल, कांपलेक्स, बार, होटल, काँलेज, मंदिरों व भीड़ भाड़ वाले इलाकों पर अभी भी रोक लगायी गयी है। वहीं लोगों को छूट के साथ फेस मास्क व शारीरिक दूरी को अभी भी कढ़ाई से पालन करने को कहा गया है।

दफ्तरों को खोला जाएगा

ग्रीन जोन के जिलों में सरकारी, गैर सरकारी दफ्तर खुलेंगे जहाँ 50 फीसदी तक ही स्टाफ उपलब्ध रखने के आदेश हैं। वहीं ऑरेंज जोन में भी इसी राज्यों के गाइड लाइन‌ के अनुसार ही दफ्तर खोलने के आदेश हैं।

मौजूदा स्थिति

आपको बता दें बीतों दिनों में करोना‌ वायरस (Coronavirus) से‌ संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या में दुगुनी रफ्तार से इजाफा हो रहा है। भारत में संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या 35,365 हो चुकी है जो कि चिंता जनक है। वहीं राज्यों के राजकोष भी तेजी से खत्म हो रहे हैं इसलिए राज्यों को लाकडाउन 3.0 के अंतर्गत मौजूदा छूट दी गयी हैं।

केंद्र सरकार ने लाक डाउन 3.0 के लिए जारी किये राष्ट्रीय दिशा निर्देश

केंद्र सरकार ने मौजूदा लॉकडाउन की अवधि को चार मई से दो और हफ्ते के लिए बढ़ा दिया है। इस अवधि में रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन में जोखिम की रूप रेखा को ध्यान में रखते हुए विभिन्न गतिविधियों को जारी रखने के लिए सरकार द्धारा राष्ट्रीय दिशा-निर्देश जारी किये हैं।

सार्वजनिक स्थानों के लिए राष्ट्रीय दिशा-निर्देश:

    • मास्‍क या फेस कवर पहनना जरूरी
    • सामाजिक दूरी बना कर रखें
    • विवाह संबंधी समारोहों में सामाजिक दूरी, मेहमानों की संख्या 50 से ज्यादा नहीं हो
    • अंतिम संस्कार में सामाजिक दूरी, 20 से अधिक लोग नहीं हो शामिल
    • पांच से अधिक लोगों के जमावड़े की अनुमति नहीं
    • सार्वजनिक स्थानों पर थूकना दण्डनीय अपराध

राज्य सरकारों को इन दिशा निर्देशों को कढ़ाई से पालन कराने को कहा गया है। वहीं शारीरिक दूरी और मास्क को अनिवार्य रुप से पालन करने‌ को कहा गया है।

31 March: निजामुद्दीन में स्थित तबलीग़ मरकज में 1600 से अधिक लोग जो इंडोनेशिया, मलेशिया, थाइलैंड, नेपाल, म्यांमार, बांग्लादेश, श्रीलंका और किर्गिस्तान से आये थे, यह लोग धार्मिक कार्यक्रम में भी शामिल हुए थे, जब पुलिस को इसकी जानकारी मिली तो निजामुद्दीन मरकज को सील कर दिया हैं और विदेशों को अस्पताल भेज दिया गया जिसमे से 24 कोरोना पॉजिटिव पाए गए जिन्हे दिल्ली के अलग – अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं।

29 March: ताज़ा जानकारी के आधार पर अभी पंजाब से कोरोनावायरस से रिलेटेड ताजा खबरें सामने आई हैं जिसमें क्या पता चला है कि 2 दिन में पंजाब से कोई भी कोरोनावायरस का कोई नया केस नहीं आया सामने आया है जितने भी वहां पर केस थे वह सब पहले के थे, जबकि महाराष्ट्र से अभी तक सबसे ज्यादा केस सामने सामने आये हैं, जो बढ़ कर अब 203 चुके हैं, 25 लोग ठीक हो चुके हैं और ७ लोगो की मौत हो चुकी है

27 March: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज RBI द्वारा किए गए एलानों की तारीफ करते हुये कहा कि RBI के इन फैसलों से देश के मध्यम वर्ग और कारोबार करने वाले लोगो को मदद मिलेगी

27 March: कोरोनावायरस की वजह से इंडिया लॉकडाउन के बीच RBI ने रेपो रेट घटा दिया है, सरकार के इस फैसले से सभी तरह के लोन सस्ते होंगे और साथ ही EMI चुकाने वालो के लिए RBI ने छूट दे दी है

26 March: गरीबों को 1 किलो दाल प्रति परिवार अगले 3 महीनों तक फ्री दी जाएगी साथ ही गरीब वृद्ध दिव्यांगों को मदद का ऐलान किया है निर्मला सीतारमण जी ने, साथ ही 3 महीने तक का EPF का पूरा पैसा सरकार जमा करेगी, अभी जो गरीब लोगों को जो मुफ्त अनाज दिया जा रहा है उसके अलावा 5 किलो गेहूं और 1 किलो दाल मिलेगी, दूसरी बात की जाए तो प्रधानमंत्री ग्राम कल्याण योजना से 80 करोड़ लोगों को अन्य मिलेगा साथ ही बुजुर्ग विधवा दिव्यांगों को 3 महीने तक ₹1000 ज्यादा पेंशन मिलेगी, साथ ही निर्मला सीतारमण जी ने ऐलान किया है की 8 पॉइंट 70 करोड़ किसानों के अकाउंट में अप्रैल के पहले हफ्ते में ₹2000 डाल दिए जाएंगे जिससे किसान लोगों को भी काफी मदद मिलेगी, मनरेगा मजदूरों की दिहाड़ी भी बढ़ाकर ₹202 की गई है, स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए 50 के बीमा का ऐलान निर्मला सीताराम जी ने अभी अपनी प्रेस कॉन्फस में किया है

26 March: कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटने के लिए बड़े आर्थिक पैकेज का ऐलान किया गया है जिसमें मजदूरों के लिए दिहाड़ी मजदूरों के लिए, मनरेगा मजदूरों के लिए निर्मला सीतारमण जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है जिस से आर्थिक पैकेज का ऐलान किया गया है इनसे जो लोग गाड़ी मजदूर लोग हैं जिनका रोज की कमाई खाने में निकल जाती है इससे उन लोगों को काफी राहत मिलेगी

Similar Posts