BRAIN GYM for the brain get faster, ब्रेन जिम, ब्रेन एक्सरसाइज

आपने अब तक शरीर मजबूत गठीला बनाने वाले जिम देखें होगें। इन जिमो में देश के आम नागरिकों से लेकर सलमान खान, अक्षय कुमार जैसे सेलेबिटीज अपना शरीर बनाते हुए देखे जा सकते हैं। लेकिन आज मैं आपको ऐसे जिम के बारे में बताने जा रहा हूं जिसमें दिमाग की कसरत कराई जाती है। हालांकि इस तरह के ब्रेन जिम का कल्‍चर अभी भारत में ठीक तरह से नहीं पहुंचा है।

ब्रेन जिम अभी पश्चिमी दुनिया में ही काम कर रहे हैं। वहां इस तरह के ब्रेन जिम की शुरूआत बरसों पहले ही हो चुकी है। भारत में ब्रेन जिम खुलने में अभी और समय लगेगा क्‍योंकि हमारे यहां हर चीज देर में आती है या फिर दूसरों की नकल करके ही खोली जाती है।

क्‍या हैं ब्रेन जिम और यह किस काम आते हैं?

ब्रेन जिम का भी वही मकसद होता है जो आज के साधारण जिमों का होता है। फर्क सिर्फ इतना है कि साधारण जिमों में शरीर गठीला बनाया जाता है, तो ब्रेन जिम में दिमाग को बलशाली और चुस्‍त दुरूस्‍त रखने की एक्‍सरसाइज कराई जाती है। ब्रेन जिम जब से अस्तित्‍व में आए हैं, तब से दिमागी बीमारियों या दिमागी सुस्‍ती को दूर करने में बहुत आसानी हो गई है। ब्रेन जिम में कई तरह के कोर्स होते हैं। जिन्‍हें अलग अलग लोगों पर एप्‍लाई किया जाता है।

ब्रेन जिम में कौन सी एक्‍सरसाइज कराई जाती है?

ब्रेन जिम में शरीर के अलग अलग अंगों को इस प्रकार हिलाया डुलाया जाता है, जिससे दिमाग की कार्यक्षमता बढ़े। साथ ही ब्रेन जिम का इस्‍तेमाल करने वाले लोगों को फोबिया (एक प्रकार का डर) से भी छुटकारा मिल जाता है। यूरोप और अमेरिका में ब्रेन जिम के सकारात्‍मक परिणाम देखने में आ रहे हैं। इसलिए वहां के लोग अपने बच्‍चों को बड़ी तादात में ब्रेन जिम ज्‍वाइन कराने लगे हैं। ताकि उनके बच्‍चों का दिमाग पूरी तरह स्‍वस्‍थ और चुस्‍त दुरूस्‍त बना रहे। ब्रेन जिमों में कई प्रकार की दिमागी कसरतें कराई जाती हैं। जिससे दिमाग पूरी तरह खुल जाता है और अच्‍छी तरह काम करने लगता है।

ब्रेन जिम में आने वाले लोगों को लंबी गतिविधियों वाली एक्‍सरसाइज, उर्जा व्‍यायाम तथा मिडलाइन मूवमेंटस कराए जाते हैं। जिससे हमारे दिमाग पर बहुत ही सकारात्‍मक असर पड़ता है। कुल मिला कर ब्रेन जिम एक अच्‍छी जगह है जहां हर कोई अपने बच्‍चों को तो भेजना शुरू करेगा साथ ही खुद भी ज्‍वाइन करना चाहेगा। लेकिन भारत में ब्रेन जिमों की इक्‍का दुक्‍का ही शुरूआत हुई है, वह भी मुंबई जैसे महानगरों में। ब्रेन जिम संस्‍कृति पनपने में यहां बहुत लंबा वक्‍त लगने वाला है। तब तक हमें इंतजार ही करना पड़ेगा।

यह पढ़े:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *